बड़ी कहानियाँ

An intricate Betal Pachisi board game with colorful pieces arranged on a vibrant, patterned board.

बेताल पचिसी (बेताल 15-25)

संक्षिप्त परिचय बेताल पचिसी (बेताल 15-25) जैसा की आप अभी तक बेताल पचिसी के शुरू के 14 भाग हमारी पिछली पोस्ट मे पढ़ चुके हैं जिसका लिंक नीचे दिया गया है। बेताल एक बुरी आत्मा को कहा जाता है , राजा विक्रमदित्य को एक महात्मा के दिए हुए वचन को पूरा करने के लिए शमशान …

बेताल पचिसी (बेताल 15-25) Read More »

बेताल पचिसी (बेताल 1-14)

बेताल पचिसी प्रारंभ प्राचीन काल की बात है, तब उज्जयनी (वर्तमान में उज्जैन) में महाराज विक्रमादित्य राज किया करते थे विक्रमादित्य हर प्रकार से एक आदर्श राजा थे। उनकी दानशीलता की कहानियां आज भी देश के कोने-कोने में सुनी जाती हैं। राजा प्रतिदिन अपने दरबार में आकर प्रजा के दुखों को सुनते व उनका निवारण …

बेताल पचिसी (बेताल 1-14) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-12)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष’ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-12) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-11)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष’ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-11) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-10)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष’ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-10) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-9)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष‘ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-9) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-8)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष’ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-8) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-7)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष’ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-7) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-6)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष’ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-6) Read More »

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-5)

-( रमेश थानवी ) Ramesh Thanvi Hindi Sahitya me Khaniyon ka Bada mehhatav hai , hindi kahaniyaan bachhon ke mansik vikas ke liye ek unnat or jacha parkha madhyam hai,Yahan Par hmare dwara देश में प्रौढ़ शिक्षा का अलख जगाने वालों में अग्रणी, साहित्य और दर्शन के अध्येता, एक दौर के प्रतिष्ठित साप्ताहिक ‘प्रतिपक्ष’ की …

घड़ियों की हड़ताल (Chapter-5) Read More »

Scroll to Top